shri Ganesh Aarti with lyrics

Jai Ganesh Aarti with Lyrics in Hindi : कहा जाता है की किसी भी शुभ काम की सुरवात गणेश जी की आरती से हो तो वह कार्य निःसन्देह बिना की रुकावट के पूरा होता है।

गणेश को कई अन्य उपाधियों और प्रसंगों में विभक्त किया गया है, जिनमें गणपति और विघ्नेश्वरा शामिल हैं। गणेश को भारतीय कला में उनकी उपस्थिति के शुरुआती चरणों के बाद से एक हाथी के सिर के साथ प्रतिनिधित्व किया गया है। गणेश भारतीय कला में एक लोकप्रिय व्यक्ति हैं। कुछ देवताओं के विपरीत, गणेश का प्रतिनिधित्व समय के साथ व्यापक बदलाव और अलग-अलग पैटर्न दिखाता है।

Ganesh Aarti Hindi PDF Download

Click Here to Download

Shri Ganesh Aarti Lyrics in Hindi

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा|
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा ||

एकदन्त दयावन्त चारभुजाधारी |
माथे पर तिलक सोहे, मूसे की सवारी ||

पान चढ़े फूल चढ़े और चढ़े मेवा |
लड्डुअन का भोग लगे सन्त करे सेवा ||

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा|
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा ||

अँधे को आँख देत कोढ़िन को काया |
बाँझन को पुत्र देत निर्धन को माया ||

सूर श्याम शरण आए सफल कीजे सेवा|
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा ||

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा|
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा ||

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा|
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा ||

माता जाकी पार्वती पिता महादेवा |
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा||

Ganesh Aarti with Lyrics in English

Jai ganesh jai ganesh jai ganesg deva |
Mata jaki parwati pita maha deva ||

Ek dant daya want char bhuuja dhari |
Mathe sindor shoye muse ki sawari ||

Jai ganesh jai ganesh jai ganesg deva |
Mata jaki parwati pita maha deva ||

Pan chadhe phool chadhe aur chadhe mewa |
Laduan ko bhog lage sant kare sewa ||

Jai ganesh jai ganesh jai ganesg deva |
Mata jaki parwati pita maha deva ||

Andhan ko aankh det kodhin ko kaya |
Bajhan ko purta det nirdhan ko maya||

Jai ganesh jai ganesh jai ganesg deva |
Mata jaki parwati pita maha deva ||

Sur shaam sharan aaye safal ki jiye sewa |
Mata jaki parwati pita maha deva ||

Jai ganesh jai ganesh jai ganesg deva |
Mata jaki parwati pita maha deva ||

Jai Ganesh Aarti Video By T-Series

Similar Posts

प्रातिक्रिया दे