Categories: Blogging

अपने ब्लॉग का नाम रजिस्टर कैसे करें – Blog Name Registration

अपने ब्लॉग का नाम रजिस्टर (Blog Name Registration). जैसे हम सभी का कुछ ना कुछ नाम होता है और उस नाम से ही हमारी पहचान होती हैं. उसी तरह से हमें अपने ब्लॉग या वेबसाइट का नाम रखना होता है. जिससे कि उसकी पहचान हो सके.

जब हमारा नाम रखा जाता है तो उसके लिए हमें बर्थ सर्टिफिकेट बनाना होता है. जिससे सरकारी तौर पर हमारी पहचान हो जाती है और वह बर्थ सर्टिफिकेट ही हमारा जन्म का प्रमाण होता है. इसी तरह से हमें अपने ब्लॉग या वेबसाइट का भी रजिस्ट्रेशन करवाना होता है जिससे कि यह सुनिश्चित किया जाए कि यह डोमेन उस आदमी का है और उसने इस डोमेन को उस तारीख में रजिस्टर किया है.

ब्लॉग का नाम रखना बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य है. जैसा कि मैंने आपको पहले भी बताया ब्लॉग का नाम ही उसकी पहचान होती है. तो जब भी आप अपने ब्लॉग का नाम रखें तो सोच समझ कर रखें.

ब्लॉग का नाम – Blog Name Registration

आप जिस भी विषय पर ब्लॉगिंग करना चाहते हैं उस से मिलता जुलता डोमेन नेम रजिस्टर करें. जिससे कि विजिटर्स समझ सकें आपके ब्लॉग में किस प्रकार की जानकारी उनको मिल सकती है.

जैसे: eHowHindi.com, eHowTips.com AlphaComputer.in, आदि.

डोमेन रजिस्ट्रेशन ही एकमात्र प्रमाण है कि वह डोमेन आपका है. और आप उस डोमेन के मालिक हैं आप जब तक चाहें उस डोमेन को चला सकते हैं और जब चाहे उस डोमेन को छोड़ सकते हैं. हर डोमेन नेम को कम से कम 1 साल के लिए रजिस्टर्ड किया जाता है, और आप चाहे तो उस डोमेन को 2, 3, 5 व 10 साल के लिए भी रजिस्टर कर सकते हैं. अधिक से अधिक आप अपने डोमेन नेम को 10 साल के लिए ही रजिस्टर्ड कर सकते हैं.

डोमेन नेम Extension

डोमेन नेम एक्सटेंशन, यानी कि नाम के साथ जोड़ने वाला Dot (.) के बाद का भाग. डोमेन नेम एक्सटेंशन कई प्रकार के होते हैं. जैसे की टॉप लेवल डोमेन नेम एक्सटेंशन, कंट्री लेबल डोमेन नेम एक्सटेंशन. फ्री डोमेन नेम एक्सटेंशन, बिजनेस डोमेन नेम एक्सटेंशन आदि.

टॉप लेवल डोमेन नेम एक्सटेंशन (gTLD): .com, .org, .net, .info आदि.

कंट्री लेबल डोमेन नेम एक्सटेंशन (ccTLD): .in, .us, .ch, .cn, .ru आदि.

फ्री डोमेन नेम एक्सटेंशन: .tk, .ga, .cf, .gq, .ml आदि.

बिजनेस डोमेन नेम एक्सटेंशन: .blog, .tech, .club, .design, .academy, .agency आदि.

हर डोमेन नेम एक्सटेंशन की अलग अलग कीमत होती है, जब भी आप कोई डोमेन रजिस्टर करने जाएं तो यह सुनिश्चित कर लें कि उसकी रजिस्ट्रेशन के समय क्या कीमत है और रिन्यू करते समय कितनी कीमत देनी पड़ेगी. बहुत सारे डोमेन रजिस्ट्रार पहली बार डोमेन रजिस्ट्रेशन करने में कुछ ऑफर देते हैं और कम कीमत में डोमेन रजिस्ट्रेशन हो जाता है लेकिन उसका रिन्यू करते समय का मूल्य ज्यादा होता है.

ब्लॉग नेम जनरेटर

ब्लॉग का नाम रखना एक बहुत बड़ी चुनौती होती है क्योंकि करोड़ों डोमेन नेम पहले से ही रजिस्टर हो चुके हैं और हर दिन लाखों रजिस्टर होते हैं. कई बार जो ब्लॉग का नाम हमें पसंद आता है वह पहले से ही रजिस्टर्ड हो रखा होता है इसलिए हमें अपने ब्लॉग के नाम में कुछ फेरबदल करने की जरूरत होती है.

डोमेन नेम में फेरबदल करना ही डोमेन नेम जनरेटर टूल्स का काम होता है. मान लीजिए कि आपको अपने डोमेन का नाम ABC रखना है, मगर वह नाम तो पहले से ही रजिस्टर्ड हो रखा है तो आप ABC डोमेन नेम के आगे या पीछे कोई शब्द जोड़कर चेक कर सकते हैं कि क्या वह डोमेन नेम रजिस्ट्रेशन के लिए उपलब्ध है या नहीं है.

Domain Name Suggestion Tool

डोमेन नेम रजिस्ट्रेशन करते वक्त किन बातों का ध्यान रखें

जब भी आप डोमेन रजिस्ट्रेशन करें उस समय कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत ही आवश्यक है.आपकी एक गलती के कारण आपका पैसा बर्बाद हो सकता है. और हो सकता है कि जिस डोमेन को अपने रजिस्टर किया है वह आपको बाद में पसंद ही ना आए, या वह डोमेन नेम आपके ब्लॉग के हिसाब से सही ना हो.

जैसे कि:

  • आपके ब्लॉग के विषय के आधार पर ही आप अपने ब्लॉग का नाम रखें.
  • ब्लॉग का नाम कम से कम शब्दों का रखें.
  • ब्लॉग के नाम का उच्चारण आसानी से हो सके.
  • ब्लॉग के नाम की स्पेलिंग आसान हो जिससे कि कोई भी इस ब्लॉग को ढूंढ सकें.
  • ब्लॉग के नाम के बीच में – का इस्तेमाल ना करें.
  • ब्लॉग के नाम में अंको (2,5,6) का इस्तेमाल करना अच्छा नहीं माना जाता है.
  • ऐसा डोमेन नेम रखें की जो आसानी से याद रखा जाए, और बोलने में भी अच्छा लगे.
  • कोशिश करें कि टॉप लेवल डोमेन ही रजिस्टर्ड करें.
  • डोमेन नेम खरीदने से पहले उस की स्पेलिंग जरूर चेक करें, कि वह सही है या नहीं.

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में मैंने आपको ब्लॉग नेम रजिस्ट्रेशन (Blog Name Registration) करने के बारे में पूर्ण जानकारी दी है. मैं आप को बताना चाहूंगा कि जब भी आप अपने ब्लॉग का नाम रखें तो वह आपके ब्लॉग के विषय से मिलता हो. कम से कम अक्षरों का डोमेन नेम रजिस्टर करें. आसानी से याद रखने व लिखने वाला नाम ही रखें. हो सके तो टॉप लेवल डोमेन नेम ही रजिस्टर करें, अवेलेबल ना हो तो कंट्री लेबल डोमेन नेम भी रजिस्टर कर सकते हैं.

मुझे उम्मीद है कि इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको समझ आ गया होगा कि अपने Blog name registration करते समय हमें किन किन बातों का ध्यान रखना है, और कौन सा ब्लॉग का नाम हमारे ब्लॉग के लिए सही है. इसके बावजूद भी अगर आपके मन में कोई सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में अपना सवाल लिखें.

Share
lucky

मैं एक हिंदी ब्लॉगर हूँ। जो आपको ब्लॉगिंग से सम्बंधित समस्त जानकारियाँ उपलब्ध कराने के साथ-साथ ब्लॉग से कमाई कैसे करते है उनके तरीक़े भी बताऊँगा। आप मेरे द्वारा ब्लॉगिंग, एसईओ, ऐडसेंस, एंड्रॉयड, कम्प्यूटर, सोशल मीडिया, इंटरनेट आदि अनेक प्रकार के विषयों पर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked*

Recent Posts

क्यों आपको अपनी WordPress साइट CyberPanel OpenLiteSpeed में चलना चाहिए?

CyberPanel एक अगली पीढ़ी का होस्टिंग कंट्रोल पैनल है, जो OpenLiteSpeed ​​द्वारा संचालित है। जो…

मार्च 31, 2020

Top 10 high Paying earning apps

क्या आपके पास स्मार्टफोन है? यदि हां, तो बधाई हो, आप ऑनलाइन पैसे कमाने में…

मार्च 16, 2020

Aster Multiseat Review & Free Download

Aster Multi Workstation Software कई workstation के लिए 1 पीसी चलाना (या, एक सिंगल सीपीयू…

मार्च 9, 2020

MyThemeShop: Best WordPress Theme in Budget

जब WordPress Theme की बात आती है, तो हमारे पास असीमित विकल्प होते हैं। आपके…

जनवरी 1, 2020

03 Best WhatsApp Alternative Apps 2020 in Hindi

Best WhatsApp Alternative Apps: सोशल मीडिया तो जैसे आज-कल हमारी लाइफ का एक पार्टी बन…

दिसम्बर 3, 2019

Original Windows 10 Download करें Microsoft की ही वैबसाइट से

दोस्तो आज मैं आप को माइक्रोसॉफ़्ट के Original Windows 10 Download करने के बारें में…

नवम्बर 10, 2019

Get $100 Free "DigitalOcean" Credit

Get It